भारत में फेक न्यूज पर ऑल्ट न्यूज के संस्थापक प्रतीक सिन्हा से बातचीत

08 मार्च 2019
प्रतीक सिन्हा
प्रतीक सिन्हा

पेशे से इं​जीनियर प्रतीक सिन्हा ने दो साल पहले ऑल्ट न्यूज की शुरुआत की. उस वक्त भारत में यही एकमात्र फैक्ट चैकिंग वेबसाइट थी. तब से वे सामाजिक संजाल में जाने माने नाम हैं

फरवरी में कारवां के रिर्पोटिंग फेलो ने प्रतीक सिन्हा से भारत में फेक न्यूज संकट पर बात की. सिन्हा ने ऑल्ट न्यूज में फेक्ट चैकिंग की प्रक्रिया के बारे में बताया. वे कहते हैं, “फर्जी खबरों के प्रसारण को रोका नहीं जा सकता लेकिन उसकी तीव्रता को नियंत्रित किया जा सकते है”. प्रस्तुत है सिन्हा से बातचीत का संपादित अंश.

तुषार धारा : भारत में फेक न्यूज के विकास और प्रक्रिया के बारे में बताइए?

प्रतीक सिन्हा : दक्षिणपंथी संगठनों ने दूसरी पार्टियों से पहले सोशल मीडिया में खुद को संगठित कर लिया था. केवल आम आदमी पार्टी एक अन्य पार्टी थी जिसने 2014 के आम निर्वाचन से पहले सोशल मीडिया में खुद को स्थापित कर लिया था. सोशल मीडिया लोगों से जुड़ने का नेटवर्क प्रदान करता है.

तुषार धारा करवां में रिपोर्टिंग फेलो हैं. तुषार ने ब्लूमबर्ग न्यूज, इंडियन एक्सप्रेस और फर्स्टपोस्ट के साथ काम किया है और राजस्थान में मजदूर किसान शक्ति संगठन के साथ रहे हैं.

Keywords: Pratik Sinha fake news Alt News AAP WhatsApp social media
कमेंट